Kostenlose Uhr fur die Seite website clocks

सोमवार

अलविदा हबीब तनवीर…




भारतीय रंगमंच के सबसे बड़े शख्सियत का खामोश हो जाना किसी सदमे से कम नहीं है, जनता के बीच जनता की आवाज बनकर वे सदियों-सदी दिल में बनें रहेंगे…
हबीब साहब के साथ बिताये पल को याद करते हुए, उन्हें नम आँखों से नमन करता हूँ।
तस्वीर र्में हबीब तनवीर के साथ अरविन्द श्रीवास्तव, मधेपुरा

2 टिप्‍पणियां:

सुशील कुमार ने कहा…

हबीब तनवीर साहब को मैं भी नमन करता हूं। उनको अरसे से जानता हूं। ईश्वर उनकी पुण्यात्मा को शांति प्रदान करे।

Udan Tashtari ने कहा…

श्रृद्धांजलि!!

Related Posts with Thumbnails